वेब होस्टिंग क्या होता है और वेब होस्टिंग की क्या (क्यों) जरुरत है? What is Web Hosting in Hindi?

वेब होस्टिंग क्या है ? Web Hosting किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग को ऑनलाइन उपलब्ध (Existence) कराने का एक माध्यम (Medium) है।वेब होस्टिंग क्या है

जिस प्रकार हम अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में जो कुछ भी काम करते हैं उस डाटा (pdf, Images, Videos) को उसके Hard Drive में स्टोर करके रखा जाता है और जब भी हमें उन डाटा में से किसी की आवश्यकता होती है तो हम उनका बड़ी आसानी से एक्सेस कर पाते हैं।

ठीक उसी प्रकार से जब हम अपना ऑनलाइन ब्लॉग या वेबसाइट बनाते हैं तो निश्चित तौर पर हम वहां पर अपना डाटा ही रखते हैं जिसे ऑनलाइन तरीके से कहीं न कहीं स्टोर किया जाता है जो ठीक हमारे कंप्यूटर Hard Disk की तरह ही काम करता है।

यही Web Hosting कहलाता है जिसकी सुविधा (Service) हमें ऑनलाइन मिलती है।

वेब होस्टिंग की आवश्यकता क्यों होती है?Web Hosting

Web Hosting Meaning क्या है?

प्रत्येक Websites और Blogs का सम्पूर्ण Data किसी एक Server पर ही Store होता है और उसे एक्सेस देने के लिए Web Hosting की जरुरत होती है।

कोई भी वेबसाइट या ब्लॉग इंटरनेट पर तब तक दिखाई नहीं दे सकती है जब तक की उसे इंटरनेट के सर्वर में अपना एक जगह यानि Space न दिया जाए।

Data Centre क्या होता है ?

पूरी दुनिया में जो इंटरनेट का जाल फैला हुआ है उसका एक Proper Data Centre होता है, जहाँ पर इन सभी Websites और ब्लॉग्स के सारे डाटा Store होते रहते हैं जिन्हे हम इंटरनेट के माध्यम से उस वेबसाइट पर जाकर उसके सभी डाटा को पूरी दुनिया में कहीं से भी Access कर सकते हैं।

ये Data Centre किन – किन जगहों पर स्थित हैं ?

ये डाटा Centre कुछ देशों में स्थित हैं जैसे – USA, United Kingdom, Canada और एशिया के लिए Singapore में है।

इन डाटा सेन्टर्स में काफी बड़े बड़े स्टोरेज Devices होते हैं जो पूरी दुनिया से Store किये गए डाटा को रखते हैं और ये सभी Storage Devices आपस में इंटरकनेक्टेड होते हैं जिन्हें Web Server कहा जाता है।

और ये हमेशा 24/7 इंटरनेट के माध्यम से जुड़े होते हैं यही कारण है की कोई भी वेबसाइट कभी बंद नहीं होता है।

इन Data Centre में डाटा रखने और उसे इंटरनेट के द्वारा Access देने के लिए जिस माध्यम का इस्तेमाल हमें करना पड़ता है उसे ही ‘वेब होस्टिंग’ कहा जाता है।

Web Hosting Companies डायरेक्ट उपभोक्ताओं (Website Honors) को इन डाटा सेंटर में आपके वेबसाइट या ब्लॉग के डाटा को अपने सर्वर पर रखने और उसे इंटरनेट के माध्यम से सभी के लिए एक्सेस करने की अनुमति देता है और इसके एवज में आपसे एक तय राशि का भुगतान (Rent) लेता है।

अतः Web Hosting एक प्रकार से आपके वेबसाइट या ब्लॉग को इंटरनेट पर जगह देता है जिसके साथ आपको अपने Domain Name को Connect करना पड़ता है।

Domain से Connect होने के पश्चात आपका वेबसाइट तुरंत इंटरनेट पर Live हो जाता है।

इसके बाद आप जो भी डाटा Files, Images, Videos और Post आप अपने ब्लॉग पर डालते हैं वह सबकुछ आटोमेटिक रूप से के Web Server के द्वारा Data Centre में स्टोर होता जाता है, जिसे उस वेबसाइट पर Browse करके कभी भी और कहीं से भी Access किया जा सकता है।

चूँकि ये Web Server हर समय यानि की 24/7 इंटरनेट के द्वारा Connected रहता है।

साधारण शब्दों में हम Web Hosting को ऐसे भी समझ सकते हैं जैसे कि हम जब किसी Cyber Cafe में जाते हैं तो वहां पर 8 या 10 कम्प्यूटर्स लोगों के इस्तेमाल करने के लिए उपलब्ध रहते हैं और वो सभी कम्प्यूटर्स एक मुख्य कंप्यूटर के साथ जुड़ी हुई होती है, जिसे सर्वर कहते हैं जोकि Cafe के मैनेजर के पास होता है।

जब भी हम कोई डाटा या File स्टोर करते हैं तो वह उसी मुख्य कंप्यूटर में Save होता जाता है और जब उसका एक्सेस करना होता है तो हमें उसकी Permission लेनी पड़ती है।

पर यदि मुख्य कंप्यूटर को बंद कर दिया जाय तो हम किसी भी डाटा को एक्सेस नहीं कर पाएंगे।

Web Hosting ठीक वैसे ही मुख्य कम्प्यूटर की तरह होता है जहाँ पर हमारे वेबसाइट या ब्लॉग के सम्पूर्ण डाटा स्टोर होते रहते हैं और जो हर समय डाटा एक्सेस देने और स्टोर करने के लिए एक्टिव रहते हैं।

यानि ये कभी भी बंद नहीं होते हैं और हमेशा इंटरनेट के माध्यम से पूरी दुनिया के लिए उपलब्ध होते हैं। Web Hosting हमारे वेबसाइट एवं ब्लॉग के लिए किराया का एक घर होता है जिसके लिए हमें पैसे देने पड़ते हैं।

वेब Hosting किस प्रकार (कैसेकाम करता है ?

जब हम अपना ब्लॉग या वेबसाइट बना लेते हैं यानि Custom Domain Name को किसी भी वेब Hosting से Connect कर देते हैं एवं उसके माध्यम से जो भी जानकारी (Information) पोस्ट करते हैं वह वेब होस्टिंग से Linked डाटा सर्वर पर Upload होता जाता है।

फिर उसे जब भी कोई यूजर इंटरनेट पर वेब Browser Platforms जैसे कि (Google Chrome, Mozilla Firefox, Safari, Opera) आदि पर Domain Name के द्वारा सर्च करता है तो यह इंटरनेट के माध्यम से ठीक उसी वेब सर्वर से Link (connect) हो जाता है, जहाँ पर हमारे वेबसाइट या ब्लॉग्स के डाटा स्टोर होते हैं।

यानि कि जो भी डाटा हम उस वेबसाइट पर स्टोर किये होते हैं वह सब कुछ Domain Name Search यानि वेबसाइट Visit के द्वारा हमारे लिए उपलब्ध हो जाता है एवं सम्पूर्ण पेज View के साथ साथ जो भी डाटा हमारे लिए उपयोगी होता है उसे हम डाउनलोड भी कर पाते हैं।

Free वेब होस्टिंग कौन सा है?

Blogger.com एवम WordPress.org ये दोनों ही किसी नए ब्लॉगर के लिए Free Web Hosting की सुविधा प्रदान करती है।

शुरुआत में अगर हम कोई ब्लॉग या वेबसाइट Open करना चाहते हैं और किसी तरह का कोई Investment नहीं करना चाहते हैं तो हम गूगल के द्वारा उसके प्लेटफार्म पर उपलब्ध बिल्कुल मुफ़्त ब्लॉगर.कॉम का Use कर सकते हैं।

ब्लॉगर.कॉम पर हमें Free का Domain Name एवं सुपर Fast Hosting Service मिलती है जोकि गूगल का अपना एक Secured (SSL) सर्विस है।

ब्लॉगर.कॉम के साथ सिर्फ एक समस्या ये है कि यहां पर जो डोमेन Name हम बनाते हैं उसमे उसके साथ अंत में Blogspot.com भी लगा रहता है जैसे कि यदि हम Blogger पर अपना Domain name के साथ ब्लॉग बनाएंगे तो वह कुछ ऐसा दिखाई देगा –

https://www.careerguideblog.blogspot.com  जोकि custom Domain Name से थोड़ा भद्दा सा लगता है।

वहीँ एक Premium Custom Domain Name कुछ ऐसा दिखेगा –   https://www.careerguideblog.com

लेकिन यहां पर हमें Premium Custom डोमेन Use (Connect) करने का Option मिलता है जिससे की हम अपना एक Premium Custom Domain Name Blogger के साथ बड़ी आसानी से Add कर सकते हैं जिससे की हमारा Blogger वेबसाइट भी एक Premium वेबसाइट की तरह लगने लगता है।

यद्पि Blogger प्लेटफार्म हमें लिमिटेड सुविधाएँ ही उपलब्ध करवाता है यानि की हम Blogger में WordPress की तरह Extra Plugins, Themes और Customization की सुविधा नहीं पाते हैं।

फिर भी अगर हम बिलकुल एक साधारण सा Information ब्लॉग बनाना चाहते हैं जहाँ पर हम अपने यूजर के लिए सिर्फ Valuable Contents Provide करना चाहते हैं तो फिर Blogger हमारे लिए एक Perfect प्लेटफार्म हो सकता है।

चूँकि गूगल ने ये प्लेटफॉर्म Blogging के लिए ही उपलब्ध कराया था। जोकि ना सिर्फ ब्लॉग्गिंग के लिए सभी के लिए बिलकुल मुफ़्त में उपलब्ध है बल्कि गूगल का सबसे बड़ा Monetization प्लेटफॉर्म Google Adsense के लिए भी सबसे अधिक उपयुक्त भी है।

गूगल Adsense ही किसी भी ब्लॉगर के लिए ब्लॉग से Earning करने यानि कमाई का सबसे बड़ा जरिया होता है।

Blogger की तरह ही WordPress.org भी एक Free वेबसाइट Hosting सर्विस Provider है जहाँ पर हम Blogger की ही तरह बिल्कुल Free में एक ब्लॉग या वेबसाइट बना सकते हैं।

इसमें भी Blogspot.com की ही तरह Domain Name के साथ wordpress.org लगा रहता है।

जोकि इस प्रकार दिखाई देता  है – https://www.careerguideblog.wordpress.org

इसे भी अवश्य पढ़ें –

जय हिन्द ! जय भारत !

सबका साथ, सबका विकास !!!

Leave a Comment

Translate »
%d bloggers like this: